Nrc का Full Form क्या है ?- Nrc Full Form In Hindi

0
52

Hindi क्या है ? और Nrc का मतलब  क्या है? ये सवाल आपके मन भी चल रहा होगा तभी आप इस पोस्ट ( Kya Hai ?.) तक पहुंचे है. तो आज आपका  इन सारे सवालों का जबाब इस Post () में पुरे विस्तार से मिलेगा। आप इस लेख को पूरा जरूर पढ़े. तो चलिए शुरू करते है.

NRC FULL FORM – एनआरसी फुल फॉर्म हिंदी 

Nrc Full Form Hindi

Nrc Full Form (एनआरसी फुल फॉर्म) “National Register of Citizens” है, हिंदी में इसे “राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर” के नाम से जाना जाता है. यह एक रजिस्टर है इसमें 25 मार्च 1971 के पहले से असम में रह रहे भारतीय नागरिकों के नाम है. वर्तमान में केवल असम में ही ऐसा रजिस्टर है. भविष्य में से अन्य राज्यों में भी लागू किया जा सकता है.  नागालैंड के द्वारा पहले से ही एक समान डेटाबेस का निर्माण किया जा रहा है इसे रजिस्टर ऑफ इंडिजिनस इनहेबिटेंट्स के रूप में जाना जाता है.

भारत सरकार के गृहमंत्री के द्वारा 20 नवंबर 2019 को संसद में घोषणा की गयी कि पूरे देश में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर लागू कर दिया जायेगा | इसमें सभी नागरिकों के जनसांख्यिकीय और बायोमेट्रिक विवरण को दर्ज किया जायेगा | केंद्रीय गृहमंत्री ने राज्यसभा में जानकारी दी थी एनआरसी में धर्म के आधार पर लोगों को बाहर करने का कोई प्रावधान नहीं है.

Nrc का क्या है ?

एनआरसी (Nrc ) से पता चलता है. कि कौन भारतीय नागरिक है और कौन नहीं। जिनके नाम इसमें शामिल नहीं होते हैं, उन्हें अवैध नागरिक माना जाता है। इसके हिसाब से 25 मार्च, 1971 से पहले असम में रह रहे लोगों को भारतीय नागरिक माना गया है।

असम पहला राज्य है जहां भारतीय नागरिकों के नाम शामिल करने के लिए 1951 के बाद एनआरसी को अपडेट किया जा रहा है। एनआरसी का पहला मसौदा 31 दिसंबर और एक जनवरी की रात जारी किया गया था, जिसमें 1.9 करोड़ लोगों के नाम थे।

असम में बांग्लादेश से आए घुसपैठियों पर बवाल के बाद सुप्रीम कोर्ट ने एनआरसी अपडेट करने को कहा था। पहला रजिस्टर 1951 में जारी हुआ था। ये रजिस्टर असम का निवासी होने का सर्टिफिकेट है. इस मुद्दे पर असम में कई बड़े और हिंसक आंदोलन हुए हैं. 1947 में बंटवारे के बाद असम के लोगों का पूर्वी पाकिस्तान में आना-जाना जारी रहा। 1979 में असम में घुसपैठियों के खिलाफ ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन ने आंदोलन किया। इसके बाद 1985 को तब की केंद्र में राजीव गांधी सरकार ने असम गण परिषद से समझौता किया। इसके तहत 1971 से पहले जो भी बांग्लादेशी असम में घुसे हैं, उन्हें भारत की नागरिकता दी जाएगी।

NRC से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारी। 

  • 1951- प्रथम बार एनआरसी का निर्माण किया गया.
  • 1971- भारत-पाकिस्तान का युद्ध हुआ था इसमें बड़ी मात्रा में बांग्लादेशी शरणार्थियों को भारत में प्रवेश दिया गया था |
  • 1970-80- असम में बहुत ही तेजी से जनांकिकीय परिवर्तन हुआ इसके परिणामस्वरूप अवैध शरणार्थियों और राज्य के निवासियों के बीच सामाजिक, जातीय और वर्ग-संघर्ष प्रारम्भ हो गया.
  • 1979-85- ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन के नेतृत्व में असम विद्रोह शुरू किया गया इस विद्रोह को ऑल असम गण संग्राम परिषद का समर्थन प्राप्त था.
  • 1985- असम समझौते पर हस्ताक्षर किये गए और 1951 में प्रकाशित राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर को विस्तारित किया गया.
  • 2012-13- असम में सर्वोच्च न्यायालय ने हस्तक्षेप किया और केंद्र सरकार को एनआरसी को अपडेट करने का निर्देश प्रदान किया गया.
  • 31 अगस्त 2019- एनआरसी की अंतिम सूची जारी की गयी इसमें करीब 19 लाख लोग को सूची से बाहर कर दिया गया. इस पर एनआरसी में गड़बड़ी का आरोप लगाया गया.

NRC के लागू होने से फायदे क्या होगा ?

यदि देश को अपने नागरिकों जानकारी होती है तो ऐसे लोग जो उस देश के वास्तविक नागरिक नहीं होते, उन्हें अपने देश भेजा जाता है। चूंकि वैसे लोग उस देश के अर्थव्यवस्था को प्रभावित करते क्योंकि उनके बारे में उस देश को भी नहीं पता होता। परिणामस्वरूप योजनाओं को लागू करने में भी परेशानी होती।

भारत में NRC सिर्फ असम में लागू हुआ है.

इसको ऐसे समझें कि मान लीजिये आपके घर में कोई ऐसा आदमी आ जाय जो आपके परिवार का हिस्सा नहीं है लेकिन वो आपके घर के सारा सुविधाओं का लाभ ले और वो भी बिना आपको बताए। क्या आपको ये पसंद होगा?

NRC के तहत कौन-कौन से डॉक्युमेंट्स वैलिड हैं?

भारत में सिर्फ असम में NRC List तैयार हुई है। सरकार पूरे देश में जो NRC लाने की बात कर रही है, उसके प्रावधान अभी तय नहीं हुए हैं। इस NRC को लाने में अभी सरकार को लंबी दूरी तय करनी पडे़गी। उसे NRC का मसौदा तैयार कर संसद के दोनों सदनों से पारित करवाना होगा। फिर राष्ट्रपति के दस्तखत के बाद NRC Act अस्तित्व में आएगा। हालांकि, असम की एनआरसी लिस्ट में उन्हें ही जगह दी गई जिन्होंने साबित कर दिया कि वो या उनके पूर्वज 24 मार्च 1971 से पहले भारत आकर बस गए थे।

ये भी पढ़ें :- 

तो उम्मीद करता हूँ. की इस Post (NRC Full Form in Hindi)  से आपके सारे सवालों का जबाब मिल गया होगा। और अब आप ये जान चुके की Nrc का Full Form क्या है ?. अगर आपको ये Post अच्छा लगा तो Share जरूर करे. और अगर आपके मन में कोई सवाल है. तो Comment Box में पूछ सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here